क्या चंदन की खेती से करोड़ों की कमाई संभव है?

चंदन की खेती के नियम चंदन की खेती को लेकर अधिकांश किसानों में संशय है जैसे.  क्या सरकार द्वारा इस खेती की अनुमति है? क्या बेचना कानूनी है? हम कैसे बेचेंगे? और इस फसल को उगाने के लिए कौन मार्गदर्शन करेगा? हम यहां पर उन सब प्रश्नों के उत्तर देने की कोशिश करेंगे। देश मेंContinue reading “क्या चंदन की खेती से करोड़ों की कमाई संभव है?”

महोगनी की खेती को अपनाकर कैसे करें भविष्य सुरक्षित

  महोगनी वृक्ष   महोगनी एक तरह का पर्णपाती वृक्ष है और दक्षिण अमेरिका और डोमिनिकन गणराज्य का राष्ट्रीय वृक्ष है. यह अफ्रीका और अमेरिका में पाया जाने वाला पौधा हे जिसकी लकड़ियों से लेकर पत्तियां और फल सभी की देश और दुनिआ में भारी मांग है। महोगनी  की ऊंचाई लगभग 50~70 फिट तक होती है औरContinue reading “महोगनी की खेती को अपनाकर कैसे करें भविष्य सुरक्षित”

ड्रमस्टिक (सहजन) की खेती में सुरक्षित करियर कैसे बनाया जाए!

ड्रम स्टिक (सहजन) क्या है ? सहजन को मुनगा, मोरिंगा  या सुरजना  के नाम से जाना जाता है । इसका वनस्पतिक नाम मोरिंगा ओलीफेरा (Moringa oleifera) है। इसकी ख़ासियत एक बड़ी ख़ासियत यह भी है कि यह कमजोर जमीन पर भी बग़ैर सिंचाई व देखभाल के सालों भर हरा-भरा रहता है सहजन या मुनगा केपौधेContinue reading “ड्रमस्टिक (सहजन) की खेती में सुरक्षित करियर कैसे बनाया जाए!”

सोयाबीन की नई वेरायटी MACS 1407, 1 Hectare में मिलेगी 39 क्विंटल उपज!

भारतीय वैज्ञानिकों ने एक ऐसे सोयाबीन की वेरायटी तैयार की है जो बंपर उपज देने के साथ कीटों के प्रभाव से बेअसर है. इन नए बीज से किसानों को उत्पादन ज्यादा मिलेगा क्योंकि कीटों का प्रभाव नहीं होने से फसल पुष्ट और सेहतमंद होगी. अगले सीजन से किसानों को इसका बीज मिलना शुरू हो जाएगा.Continue reading “सोयाबीन की नई वेरायटी MACS 1407, 1 Hectare में मिलेगी 39 क्विंटल उपज!”

पिंक ताइवान अमरूद की खेती क्यों करें !

हम आपको पिंक ताइवान अमरूद के बारे में बताने जा रहे हैं जो कि भारत में बहुत ही लोकप्रिय हो रहा है और यह किसानों का कमाने का अच्छा जरिया भी बन रहा है इस की खेती करके किसान अच्छी उपाधि प्राप्त कर सकते हैं और अच्छा लाभ प्राप्त कर सकते हैं । यह वैरायटीContinue reading “पिंक ताइवान अमरूद की खेती क्यों करें !”

STRAWBERRY FARMING GUIDE

स्ट्राबेरी की खेती की सम्पूर्ण जानकारी स्ट्रॉबेरी फ़्रागार्या जाति का एक पेड़ होता है, जिसके फल के लिये इसकी विश्वव्यापी खेती की जाती है। इसके फल को भी इसी नाम से जाना जाता है। स्ट्रॉबेरी की विशेष गन्ध इसकी पहचान बन गयी है। ये चटक लाल रंग की होती है। इसे ताजा भी, फल के रूप मेंContinue reading “STRAWBERRY FARMING GUIDE”

स्टीविया की खेती : एक बार लगाकर पांच साल तक कमाएं

परिचय: स्टीविया स्टीविया रुबिडियाना (मीठी तुलसी) एक झाड़ीनुमा पौधा है इसका मूल उत्पन्न स्थल पूर्वी पुरुग्वे है ! अमेरिका ब्राजील जापान कोरिया ताइवान एवं दक्षिण पूर्व एशिया में खूब पाया जाता है इससे चीनी तो नहीं बनाई जा सकती लेकिन उसमें उपलब्ध मिठास, चीनी से 300 गुना अधिक होती है ! अतः स्वास्थ्य के प्रति जागरूकContinue reading “स्टीविया की खेती : एक बार लगाकर पांच साल तक कमाएं”

ड्रैगन फ्रूट की खेती

ड्रैगन फ्रूट कैक्टस प्रजाति से मिलता-जुलता फल होता है जो कुछ देशों में Pitya फ्रूट के नाम से भी जाना जाता है. इसके अलावा ड्रैगन फ्रूट को क्वीन ऑफ द नाइट भी कहा जाता है, क्योंकि इसका फूल सिर्फ रात के समय ही तेजी से बढ़ता है. और Dragon Fruit की एक ख़ास बात इसकोContinue reading “ड्रैगन फ्रूट की खेती”

इस महीने कर सकते हैं पपीते की खेती, मिलेगी बढ़िया पैदावार

 क्षेत्रफल की दृष्टि से यह हमारे देश का पांचवा लोकप्रिय फल है। यह बारहों महीने होता है, लेकिन यह फ़रवरी-मार्च से मई से अक्टूबर के मध्य विशेष रूप से पैदा होता है, क्योंकि इसकी सफल खेती के लिए 10 डिग्री से. से 40 डिग्री से. तापमान उपयुक्त है। इसके फल विटामिन A और C केContinue reading “इस महीने कर सकते हैं पपीते की खेती, मिलेगी बढ़िया पैदावार”

कृषि कानून बिल 2020- एक संछिप्त परिचय

2020–2021 भारतीय किसानों का विरोध तीन कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहा है, जिसे भारत की संसद ने सितंबर 2020 में पारित किया था। किसान यूनियनों और उनके प्रतिनिधियों ने मांग की है कि कानूनों को निरस्त किया जाए और कहा गया है कि वे एक समझौता स्वीकार नहीं करेंगे। किसान नेताओं ने खेत कानूनोंContinue reading “कृषि कानून बिल 2020- एक संछिप्त परिचय”